2019 में टीएमसी हुई हाफ, 2021 के विधानसभा चुनाव में होगी साफ : मेधवाल
Tuesday, 30 June 2020 14:22

  • Print
  • Email

नई दिल्ली: केन्द्रीय संसदीय राज्य मंत्री और भाजपा के वरिष्ठ नेता अर्जुन राम मेधवाल ने आरोप लगाया है कि कोरोना काल में ममता बनर्जी की सरकार ने लोगों को सहायता पहुचाने में भेदभाव किया है, भाजपा कार्यकर्ताओं पर अत्याचार किया, बावजूद इसके पार्टी कार्यकर्ता सेवा भाव मे लगे रहे। उन्होंने कहा कि 2019 के लोकसभा चुनाव में भाजपा ने टीएमसी को हाफ किया था, अब 2021 के विधानसभा चुनाव में साफ कर देंगे। दिल्ली से बंगाल के लिये जन संवाद रैली को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये संबोधित करते हुए मेघवाल ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की आत्मनिर्भर भारत की संकल्पना, भारत को 21 सदी में विश्व गुरु के पद पर पदस्थापित केरेगी। उन्होंने कहा कि ऐसी ही कल्पना स्वामी विवेकानंद ने 1894 में अमेरिका के शिकागो में की थी।

गौरतलब है कि इस वर्चुअल रैली को पश्चिम बंगाल भाजपा के वरिष्ठ नेताओं के अलावा केंद्रीय वन और पर्यावरण राज्यमंत्री बाबुल सुप्रियो ने भी संबोधित किया। रैली को संबोधित करते हुए बाबुल सुुप्रियो ने आरोप लगाया कि पिछले नौ साल के शासनकाल में पश्चिम बंगाल में सिर्फ ममता बनर्जी, उनके परिवार और आस पास रहने वाले लोगों की उन्नति हुई है। इसके उलट राज्य में विकास ठप है। हिंसा का बोलबाला है ।

सुप्रियो ने कहा कि लेफ्ट के 34 साल के शासन में जो बंगाल की हालत थी, उस से भी बदतर हालत आज है। 2011 में लोगों को सपने दिखाकर ममता बनर्जी सत्ता में आई और आज बंगाल को नेपथ्य में पहुचा दिया है। उन्होंने आरोप लगाया कि मुख्यमंत्री एक आंख से बंगाल में शासन करती है। ऐसा लगता है कि वो राज्य की मुख्यमंत्री नहीं, एक राजनीतिक पार्टी की मुख्यमंत्री हो। उन्होंने कहा कि दीदी आज देश के संघीय ढांचे को कमजोर कर रही है, लोगो को सिर्फ वोट डालने की मशीन समझती है।

सुप्रियो का कहना था कि 'दीदी का मतलब होता है सबको प्यार करने वाला। लेकिन बंगाल में दीदी भाजपा के कार्यकर्ताओं पर अत्याचार करती है, कार्यकर्ताओं की जान लेती है। लेकिन 2021 में बंगाल की जनता टीएमसी सरकार को उखाड़ फेकेगी और एक साफ सुथरा सरकार देगी।'

--आईएएनएस

Leave a comment

Make sure you enter all the required information, indicated by an asterisk (*). HTML code is not allowed.